trending now

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

पहले छोड़ी गैस सब्सिडी,अब लगा रहे हैं गैस एजेंसियों के चक्कर

सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार को लगाई फटकार कहा देश को बताएं राफ़ेल विमान की कीमत

बाल संरक्षण विभाग की टीम पहुंची और शादी को रुकवा दिया ...

अंबाला

मंडप में हो रही थी फेरों की तैयारी, अचानक हुआ कुछ ऐसा रोकनी पड़ गई शादी लड़की की मौसी की माने तो लडकी बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखती है और लड़की का पिता शराब का आदि है और ऐसे में भलाई के लिए ही लड़की की शादी करवाई जा रही थी। मंडप तैयार था, दुल्हा-दूल्हन भी तैयार थे लेकिन ऐनवक्त पर बाल संरक्षण विभाग की टीम पहुंची और शादी को रुकवा दिया। पुलिस की मदद से लड़की और लड़कों को कब्जे में लेने के बाद महिला थाने में लेकर आई लेकिन थाने में पहुंचते ही लड़की ने चौकाने वाला खुलासा करते हुए कहा कि वो नाबालिग है और उसकी जबरस्ती शादी करवाई जा रही थी।

लेकिन दुल्हे के मुताबिक वो बालिग है। लड़की और उसके परिजनों की मर्जी से ही शादी हो रही थी। फिलहाल बाल संरक्षण विभाग को दोनों को उम्र जांच के दस्तावेजों का इंतजार है जिसके बाद ही मामले की आगामी कार्रवाई की जाएगी। लड़की की मौसी की माने तो लडकी बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखती है और लड़की का पिता शराब का आदि है और ऐसे में भलाई के लिए ही लड़की की शादी करवाई जा रही थी जबकि बाल सारक्षण टीम की मानें तो उन्हें गुप्त सूचना मिली थी। सूचना मिलने के बाद जब मौके पर पहुंचे तो दोनों शादी के बंधन में बंधने ही वाले थे कि लड़का-लड़की दोनों को थाने में बुला लिया गया।

बता दें कि लड़की अंबाला जिले के मुलाना की रहने वाली है और वो बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखती है. इतना ही नहीं लड़की का पिता नशे का आदि है लेकिन क्या गरीब परिवार से होना पिता का शराबी का होना किसी नाबालिग की शादी का कारण हो सकता है। इस मामले की सच्चाई क्या है ये तो जांच के बाद ही साफ हो पाएगा।

Related News

Leave a Reply