trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

Total Visitors : 5 2 3 7 7

केंद्र सरकार ने आरबीआई से मांगे थे 3.6 लाख करोड़ रुपये ...

नई दिल्ली  रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और केंद्र सरकार के बीच चल रहे टकराव में आए दिन नए खुलासे हो रहे हैं। इस टकराव की एक बड़ी वजह सामने आ रही है।रिपोर्ट के मुताबिक केंद्र सरकार का एक प्रस्ताव आरबीआई के साथ टकराव की वजह बना इस प्रस्ताव में केंद्र सरकार ने रिजर्व बैंक की रिजर्व पूंजी में से सरप्लस के 3.6 लाख करोड़ रुपये मांगे थे। लेकिन आरबीआई ने केंद्र सरकार के प्रस्ताव को मानने से इंकार करते हुए ठुकरा दिया। केंद्र सरकार और आरबीआई के टकराव की वजह सामने आने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

रिपोर्ट के मुताबिक केंद्र सरकार के प्रस्ताव को ठुकराते हुए आरबीआई ने दलील दी थी कि बैंक का कुल सरप्लस 9.59 लाख करोड़ रुपये है। केंद्र सरकार इसकी एक तिहाई राशि मांग रही है अगर इस प्रस्ताव को मान लिया गया तो इससे देश की माइक्रो इकोनॉमी को खतरा हो सकता है। केंद्र ने सलाह दी थी कि सरकार और आरबीआई मिलकर सरप्लस को मैनेज करें। इस मामले पर आरबीआई का कहना था कि अर्जेंटिना जैसी आर्थिक हालत में सरप्लस की रकम स्थिति को काबू रखने में मददगार होगी। आरबीाई के डिप्टी गवर्नर आचार्य विरल ने भी 26 अक्टूबर की अपनी स्पीच में इस मुद्दे का जिक्र किया था जिसके बाद सरकार और रिजर्व बैंक के बीच तकरार की बातों को बल मिला।

Related News

Leave a Reply