trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

बिहार विधानमंडल की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित . ...

बिहार विधानमंडल के दोनों सदनों की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिये स्थगित कर दी गई है कार्यवाही के अंतिम दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी मौजूद रहे इसके पहले बिहार विधान परिषद की कार्यवाही भी अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दी गई थी विधान परिषद में कुल पांच बैठकें हुईं इस दौरान 282 प्रश्न आए जिनमें से 254 स्वीकृत किए गए। 54 ध्यानाकर्षण प्रस्ताव में से 35 को स्वीकृति प्रदान की गई वहीं 18 शून्यकाल के भी प्रस्ताव आए इनमें से 11 स्वीकृत किए गए। सत्र समाप्ति के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि विपक्ष को उम्मीद थी कि लॉ एंड ऑर्डर के सवाल पर आज आखिरी दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कुछ बोलेंगे, लेकिन लेकिन हर बार की तरह इस बार भी वो चुप ही रहे. उन्होंने विपक्ष सदन की कार्यवाही को बाधित करने के आरोपों पर कहा कि सीएम और डिप्टी सीएम सदन में चुप रहते हैं इससे हमारे परिवार के वरुद्ध साजिश की बू आती है।

इस बीच संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि बिहार की जनता को बहुत उम्मीद थी विपक्ष सार्थक भूमिका निभाएगा वे 27 तारीख से कार्य स्थगन ला रहे थे। जो सवाल उठाए गए उन्हीं से संबंधित सवाल किए, लेकिन जवाब नहीं सुना गया उनका मकसद सिर्फ हंगामा करना था। उन्होंने कहा कि द्वितीय अनुपूरक बजट पर 3 घन्टे की बहस होनी थी लेकिन विपक्ष ने संसदीय लोकतंत्र को तार-तार कर दिया संसदीय प्रणाली के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब विपक्ष  सरकार के संदेश को रोकना चाह रहा था जिन सवालों को उठाना चाहते थे तो उठा सकते थे।

Related News

Leave a Reply