trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

पेशी के बाद दोनों को एक साथ जेल भेज दिया गया . ...

पेशी के बाद मंजू वर्मा झल्ला उठीं और चीखते हुए बोलीं बताओ कि मेरी गलती क्या है?  उन्होंने सीएम नीतीश कुमार, डिप्टी सीएम सुशील मोदी, पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी का नाम लेते हुए पूरे राज्य की जनता से सवाल किया कि आखिर मेरी गलती क्या है?

आर्म्स एक्ट की आरोपी मंत्री मंजू वर्मा और उनके पति चंद्रशेखर वर्मा की आज बेगूसराय के मंझौल कोर्ट में फिर एक बार पेशी हुई। पेशी के बाद दोनों को एक साथ जेल भेज दिया गया। अब 13 दिसंबर को दोनों की कोर्ट में अगली पेशी होगी। पेशी के बाद जब पत्रकारों ने उनसे कुछ सवाल करना चाहा तो वह झल्ला उठीं और चीखते हुए बोलीं बताओ कि मेरी गलती क्या है। उन्होंने सीएम नीतीश कुमार, डिप्टी सीएम सुशील मोदी, पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी का नाम लेते हुए पूरे राज्य की जनता से सवाल किया कि आखिर मेरी गलती क्या है? मंजू वर्मा ने सवाल पूछा कि मुझे क्यों प्रताड़ित किया जा रहा है। झल्लाते हुए मंजू वर्मा ने कहा कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम की हर खबर में मेरे और मेरे पति का नाम लिया जा रहा है। सीबीआइ मामले की जांच कर रही है और जल्द ही सभी दोषी सजा पाएंगे। मुझे मेरी किस गलती की सजा दी जा रही है।इसलिए कि 

मैं एक महिला हूं?   

कुशवाहा समाज की बेटी हूं?

मैं मंत्री थी तो ये मेरी गलती है क्या?

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 29 बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न मामले में मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा की संलिप्तता की बात सामने आई थी। पति की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई की टीम जब छापेमारी के लिए मंजू वर्मा के घर पहुंची तो वहां से सीबीाई ने भारी मात्रा में कारतूस बरामद किया था। घटना के बाद से ही मंजू वर्मा फरार चल रही थीं। 20 नवंबर को उन्होंने बेगूसराय के मंझौल कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया था। 

Related News

Leave a Reply