trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

प्रदेश में 15 हज़ार कर्मचारी 3 हजार 450 टेबल पर वोट गिनेंगे ...

मध्य प्रदेश मतगणना में पंद्रह हजार कर्मचारियों की ड्यूटी लगायी गयी है। मतगणना स्थल पर इलेक्शन कैंडिडेट के प्रतिनिधि मौजूद रह सकेंगे। चुनाव आयोग ने मतगणना को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। EVM में गड़बड़ी को लेकर मचे हंगामे के बीच चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश में मतगणना की तैयारी पूरी कर ली है।

11 दिसंबर को मतगणना है पूरे प्रदेश में 15 हज़ार कर्मचारी 3 हजार 450 टेबल पर वोट गिनेंगे। पूरे प्रदेश में मतगणना की जो व्यवस्था की गयी है, अगर उस पर गौर करें तो कुल 306 कमरे मतगणना के लिए तैयार किए गए हैं हर एक विधान सभा क्षेत्र के लिए चौदह टेबल लगेंगी कुल मिलाकर मतगणना स्थल पर तीन हजार 450 टेबल लगाई जाएंगी पूरे प्रदेश में ठीक 8 बजे से एक साथ वोटों की गिनती शुरू होगी।  मतगणना में पंद्रह हजार कर्मचारियों की ड्यूटी लगायी गयी है मतगणना स्थल पर इलेक्शन कैंडिडेट के प्रतिनिधि मौजूद रह सकेंगे। चुनाव आयोग ने मतगणना को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं ।

इस बीच चुनाव में खर्च का ब्यौरा नहीं देने वाले प्रत्य़ाशियों के खिलाफ चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाई है. इस बार 2 हजार 899 प्रत्याशी मैदान में थे, उनमें से सैकड़ों प्रत्याशियों ने चुनाव प्रचार में खर्च का ब्यौरा अभी तक चुनाव आयोग को नहीं दिया है. ऐसे 532 प्रत्याशियों को आयोग ने नोटिस भेज दिया है। 27 प्रत्याशियों के खिलाफ आर.पी.एक्ट के तहत केस दर्ज कराया गया है।

Related News

Leave a Reply