trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

Total Visitors : 6 4 2 9 8

पीएम मोदी- महत्वपूर्ण विधायी बिल लंबित हैं जो लोगों के हित.. ...

सार्वजनिक हित से संबंधित मुद्दों पर व्यापक बहस का आह्वान करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को उम्मीद जताई कि 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले राजनीतिक दलों की चिंताओं से ज्यादा राष्ट्रीय हित को महत्व दिया जाएगा। उनकी यह टिप्पणी संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले आई है। पीएम मोदी ने कहा, "संसद का शीतकालीन सत्र महत्वपूर्ण है। महत्वपूर्ण विधायी बिल लंबित हैं, जो भारत के लोगों के हित में हैं। मुझे उम्मीद है कि कार्यवाही सुचारु रूप से होगी और सदस्यों के बीच खुलकर बहस होगी।" उन्होंने कहा, "मुझे उम्मीद है कि शीतकालीन सत्र में कामकाज अधिक होगा हम कड़ी मेहनत करने और लंबित विधायी एजेंडे को पूरा करने का प्रयास करें। हमेशा पार्टी के विचारों पर राष्ट्रीय हित की विजय हो।"

संसद का शीतकालीन सत्र मंगलवार को शुरू हुआ। करीब महीने भर तक चलने वाले इस सत्र में 20 बैठकें होंगी और यह 8 जनवरी तक जारी रहेगा। संसदीय मामलों के मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सत्र के दौरान 45 विधेयकों और एक वित्तीय विधेयक पेश किए जाएंगे।मुस्लिम महिला (विवाह पर अधिकारों का संरक्षण) अध्यादेश, भारतीय चिकित्सा परिषद (संशोधन) अध्यादेश और कंपनियों (संशोधन) अध्यादेश की जगह तीन विधेयकों को पारित किया जाना है। सत्र के दौरान उपभोक्ता संरक्षण विधेयक, किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) संशोधन विधेयक और मानव तस्करी (रोकथाम, संरक्षण और पुनर्वास) विधेयक जैसे कुछ महत्वपूर्ण लंबित कानूनों पर भी विचार किए जाने की उम्मीद है।

Related News

Leave a Reply