trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

Total Visitors : 16

भारत में रहने वाला हर नागरिक देशभक्त राष्ट्रभक्त है -सीएम .. ...

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हर माह की एक तारीख़ को मंत्रालय में वंदेमातरम गायन की अनिवार्यता को बंद करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि यह निर्णय ना किसी एजेंडे के तहत लिया गया है और ना ही हमारा वंदेमातरम गायन को लेकर कोई विरोध है। वंदेमातरम हमारे दिल की गहराइयों में बसा है हम भी समय-समय पर इसका गायन करते हैं।

मुख्यमंत्री ने जारी आदेश में कहा है कि, वे वंदेमातरम को वापस प्रारंभ करेंगे लेकिन एक अलग रूप में करेंगे, लेकिन उनका यह भी मानना है कि सिर्फ़ एक दिन वन्देमातरम गायन करने से किसी की देशभक्ति या राष्ट्रीयता परिलिक्षित नहीं होती है। देशभक्ति व राष्ट्रीयता को सिर्फ़ एक दिन वन्देमातरम गायन से जोड़ना ग़लत है। सीएम कमलनाथ ने सवाल किया कि, जो लोग वंदेमातरम गायन नहीं करते हैं तो क्या वे देशभक्त नहीं हैं? हमारा यह भी मानना है कि राष्ट्रीयता या देशभक्ति का जुड़ाव दिल से होता है। इसे प्रदर्शित करने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि उनकी भी धर्म, राष्ट्रीयता या देशभक्ति में आस्था है। कांग्रेस पार्टी जिसने देश की आज़ादी की लड़ाई लड़ी, उसे देशभक्ति, राष्ट्रीयता के लिए किसी से भी प्रमाणपत्र लेने की आवश्यकता नहीं है।

कमलनाथ ने कहा कि उनका यह भी मानना है कि इस तरह के निर्णय वास्तविक विकास के मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए व जनता को गुमराह करने के लिए थोपे जाते रहे हैं. भारत में रहने वाला हर नागरिक देशभक्त, राष्ट्रभक्त है. उसे किसी भी प्रकार के प्रमाणपत्र लेने की और ना उसे किसी को प्रमाणपत्र देने की आवश्यकता है. सीएम ने कहा कि भाजपा इस पर राजनीति ना करे. वे वंदेमातरम को नए रूप में शीघ्र निर्णय लेकर लागू करेंगे।

Related News

Leave a Reply