trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

Total Visitors : 5 1 3 9 3

प्रदेशवासी अपने सामान की सुरक्षा स्वयं करे क्योंकि पुलिस...❓ ...

 जागते रहो  क्योंकि पुलिस सो रही है

यूपी में आम जनता पर तो पुलिस खूब रौब झाड़ती है,कभी वाहन चेकिंग के नाम पर तो कभी अतिक्रमण,या फिर विधुत विभाग की मेहरबानी के चलते आदि,पुलिस की मुस्तैदी के क्या कहने,घटना बाद में पुलिसकर्मी पहले हो भी क्यो न अब हमारी पुलिस हाईटेक यानी नए ज़माने की परंतु सिर्फ वही जहाँ गांधीजी पाए जाते है क्या करे कहना ही पड़ता है कड़वा है पर सच है,परंतु जहाँ ज़रूरत हो वहाँ आधुनिकता का सर्वर डाउन हो जाता है,पुरानी फिल्मों के मानिंद हुज़ूर देर कर दी आते आते,आखिर वो भी तो हाड़ मास के मानस ही तो है हमारे आप के जैसे,तारीफ खत्म कर बात मुद्दे की करते है,ताज़ा घटना कोतवाली अजगैन की है जहाँ चोरों के हौसले इतने बुलंद है कि कोतवाली से चंद कदम की दूरी पर ही लाखों के माल पर हाथ साफ कर दिया और पुलिस सोती रही,जब कि शासन और प्रशासन की ओर से सख्त निर्देश है निरंतर गश्त वाहन और पैदल,रात्रि पैदल गश्त पर आला अधिकारियों द्वारा सभी थाना अध्यक्षों को खास दिशानिर्देश दिए गए है,उसके बावजूद अगर क्षेत्र में चोरों अपराधियों के हौसले बुलंद है तो प्रशासन हम सब की संतावना का पात्र है,सरकारी दावे और प्रशासनिक सख्ती सब खोकले,हाथी के दाँत खाने की कुछ दिखाने के कुछ मुहावरे को चितार्थ करते है।

ताज़ा घटना:
कोतवाली अजगैन से चंद कदमो की दूरी पर संजय किराना स्टोर से चोरो ने लाखो का माल किया पार , किराना स्टोर संचालक द्वारा पी के न्यूज़ संवाददाता राजीव मिश्रा को दी गई जानकारी अनुसार,स्टोर संचालक क्षेत्र के थोक गुटखा व्यापारी है और एक दिन पूर्व ही 20-25 कार्टून गुटखा आया था,जहां पर माल रखा गया था वहां पर बिना मुखबरी या परिचित के पहुंचना संभव नही है ,कोतवाली पुलिस पूरे मामले मे ढीला रवैया अपनाए हुऐ है ,जो कि गैर ज़िम्मेदाराना और संदेहास्पद है, व्यापारी का कहना है कि पुलिस अगर इच्छाशक्ती के साथ छान बीन करे तो चोर पकडे जा सकते है,परंतु खबर लिखे जाने तक अजगैन कोतवाली द्वारा किसी भी प्रकार की उचित संतोषजनक कार्यवाही नही की गई है,पीड़ित किराना स्टोर संचालक न्याय की आस में लगातार कोतवली के चक्कर लगाने को विवश है।

Related News

Leave a Reply