trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

Total Visitors : 6 4 2 0 3

विनियमितिकरण न हुआ तो अमीन व अनुसेवक लेंगे जल समाधि......... ...

विनियमितिकरण न हुआ तो अमीन व अनुसेवक लेंगे जल समाधि

राजस्व सामयिक संग्रह अमीन कर्मचारी (सेवक) वेलफेयर एसोसिएशन ने आज तहसील सदर से जुलूस निकालकर जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया। प्रर्दशन के बाद मुख्यमंत्री,अपर मुख्य सचिव राजस्व, अध्यक्ष राजस्व परिषद उत्तर प्रदेश के नाम सम्बोधित 5 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया। प्रदेश अध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार ने चेतावनी दी है कि प्रदेश के समस्त सामयिक संग्रह अमीनो व अनुसेवकों का सम्पूर्ण समायोजन न हुआ तो उत्तर प्रदेश के समस्त सामयिक संग्रह अमीन व अनुसेवक 23 जुलाई को राजस्व परिषद,5 अगस्त को विधानसभा का घेराव करेंगे।15 अगस्त को इको गार्डन लखनऊ में नेत्रदान व देहदान करेंगे। इसके बाद भी सम्पूर्ण  समायोजन नहीं हुआ तो उत्तर प्रदेश के समस्त सामयिक संग्रह अमीन व अनुसेवक सामूहिक रूप से गोमती नदी में जल समाधि लेंगे। वीरेन्द्र कुमार ने सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार व शासन के अधिकारियों की उपेक्षा व भ्रष्ट मानसिकता के कारण सामयिक संग्रह अमीनो व अनुसेवकों का विनियमितिकरण नहीं हो पा रहा है।जिसके कारण सदमे में अनेकों सामयिक संग्रह अमीनो व अनुसेवकों ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। सैकड़ों की संख्या में विनियमितिकरण से पहले ही सेवा निवृत्त होकर घर चले गए। मुख्यमंत्री के तमाम आस्वासन के बाद भी आज तक सम्पूर्ण  समायोजन नहीं हो सका। वीरेन्द्र कुमार ने बताया कि प्रदेश में संग्रह अमीनो के 3096 पद रिक्त हैं और समायोजन के लिए 2200 सामयिक संग्रह अमीन शेष है। अनुसेवकों के 3369 पद रिक्त हैं समायोजन के लिए 3296 सामयिक संग्रह अनुसेवक शेष है। सरकार चाहे तो एक बार में सामयिक संग्रह अमीनो व अनुसेवकों का समायोजन कर सकती है लेकिन भ्रष्ट मानसिकता के चलते शासन के अधिकारी सम्पूर्ण  समायोजन नहीं होने देना चाहते है। उन्होंने चेतावनी दी है कि किसी भी अनहोनी के लिए सरकार जिम्मेदार होगी।क्योकि मुख्यमंत्री से मिल कर कई बार अनुरोध किया जा चुका है। लेकिन शासन के अधिकारी बिल्कुल ध्यान नहीं दे रहे हैं। प्रर्दशन में भाग लेने वालों में प्रदेश अध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार के अलावा मनोज तिवारी,प्रवीण बाजपेई, संजय श्रीवास्तव, रामचंद्र शर्मा, तिलक सिंह, संजय अवस्थी, यशवंत सिंह आदि शामिल थे।

 

 

Related News

Leave a Reply