Total Visitors : 1 1 5 8 6 7

इलाके में लगे जर्जर खंभे के सपोर्टर में उतरे करंट ने ली जान, ...

खंभे के सपोर्टर में उतरे करंट ने ली बच्चे की जान,

लखनऊ के पारा थाना क्षेत्र स्थित सोनियानगर में बिजली के खंभे के सपोर्टर पर उतरे करंट ने शनिवार शाम एक बच्चे की जान ले ली। वह कक्षा चार का छात्र था। इलाके में जर्जर बिजली के खंभे और झूलते तारों से आक्रोशित नागरिकों ने बिजली विभाग के अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराते हुए हंगामा किया। पिता ने थाने में तहरीर दी है। एसडीओ ने परिवार को मुआवजे व खंभे दुरुस्त कराने का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया।
पुलिस के मुताबिक, सोनियानगर निवासी कैब चालक अशोक मिश्रा का 10 वर्षीय बेटा कृष्णा मिश्रा उर्फ ऋषभ शाम 5:30 बजे अपने घर से पैदल निकला था। कुछ दूरी पर बिजली के खंभे के सपोर्टर के पास उसे झटका लगा और सपोर्टर पर उतरे करंट की चपेट में आकर गिर गया। आसपास के लोग दौड़े।

बच्चे को किसी तरह सपोर्टर से अलग किया। परिवारीजन उसे लोकबंधु अस्पताल ले गए। डॉक्टरों ने ऋषभ को मृत घोषित कर दिया। बच्चे की मौत का पता चलते ही इलाके के लोग आक्रोशित हो गए। बच्चे के शव के पास बिलख रहे माता-पिता ने बिजली निगम के अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराते हुए कार्रवाई की मांग की। तीन बच्चों में सबसे बड़ा ऋषभ प्रतिभा विकास पब्लिक स्कूल में कक्षा चार का छात्र था।

इलाके में लगे हैं जर्जर खंभे

मोहल्ले के राजेश अवस्थी, अंजू जायसवाल, लवली गुप्ता, विजयकांत त्रिवेदी, गुड्डन, सावित्री ने पार्षद रेखा सिंह व उनके पति पूर्व पार्षद नागेंद्र सिंह से शिकायत के साथ हंगामा शुरू कर दिया। कहा कि इलाके में जर्जर खंभे लगे हैं। उन पर झूलते बिजली के तार आए दिन आपस में टकराकर चिंगारी छोड़ते हैं।

बिजली निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों से शिकायत की गई तो उन्होंने शुल्क अदा करके नए खंभे लगवाने की बात कहकर टाल दिया। नागरिकों के हंगामे के बीच पूर्व पार्षद नागेंद्र सिंह ने राजाजीपुरम विद्युत केंद्र के एसडीओ एके सिंह को कॉल करके नाराजगी जताई।

नागरिकों को बताया कि एसडीओ ने पीड़ित परिवार को एक लाख रुपये मुआवजा और हफ्ता भर में इलाके के जर्जर खंभे व तार दुरुस्त कराने का आश्वासन दिया है। इस पर प्रदर्शन स्थगित कर दिया गया।

स्ट्रीट लाइट से स्टे में उतरा करंट

मामले पर अधिशासी अभियंता राजाजीपुरम खंड लेसा सिस गोमती एके सिंह का कहना है कि आलमनगर के सोनिया नगर में शाम को बिजली पोल के स्टे वायर में उतरे करंट से छात्र की मौत हुई है। सूचना पर जूनियर इंजीनियर माहिर ने कर्मियों संग मौका मुआयना किया और बताया कि नगर निगम की ओर से  स्ट्रीट लाइट को अव्यवस्थित तरीके से लगाया गया, जिससे तारों से स्टे वायर में करंट उतरा। इस मामले की जांच के लिए विद्युत सुरक्षा निदेशालय को पत्र भेजा जाएगा।

Related News

Leave a Reply