Total Visitors : 9 1 9 8 4

धर्म के ठेकेदारों की खुली दुकान, मचा बवाल.......... ...

अस्पताल में शव छोड़ पुलिस हुई गायब, मचा हङकम्प……

कानपुर : उत्तर प्रदेश की मित्र पुलिस ने मित्रता कुछ इस कदर निभाई है आप जानकर हैरान रह जाएंगे, जहां एक तरफ स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जब पूरा देश आजादी का जश्न मना रहा था, वहीं दूसरी ओर पुलिस ने एक युवक को थाने में कैद करके रखा था, पुलिस द्वारा युवक को थाने में कैद कर इतना प्रताड़ित किया गया कि युवक की मौत हो गई। थाने की हवालात में युवक की मौत होने पर पुलिस कर्मी अस्पताल में शव छोड़कर भाग निकले। अस्पताल प्रबंधन से जानकारी मिलने पर पुलिस के अफसर गंभीर हुए तब मामला सामने आया। फिलहाल लोगों और परिजनों के बवाल की आशंका के चलते संबंधित थाने में व मस्जिद के बाहर भारी फोर्स तैनात किया गया है।
नौबस्ता थाने में अपहरण के मामले में पुलिस पूछताछ के लिए अजहर नाम के युवक को उठाकर लाई थी। अजहर को थाने की हवालात में रखा गया था। देर रात अचानक उसकी हालत बिगडऩे लगी तो पुलिस कर्मियों के हाथ-पांव फूल गए। आनन-फानन में पुलिसकर्मी अजहर लेकर कांशीराम अस्पताल पहुंचे। यहां डॉक्टरों ने अजहर को मृत घोषित कर दिया तो पुलिस कर्मी घबरा गए। पुलिस शव छोड़कर अस्पताल से भाग गई। काफी देर तक शव उठाने किसी के न आने पर अस्पताल प्रबंधन ने तलाश शुरू कराई।
जब कोई पुलिसकर्मी नहीं मिला तो अस्पताल द्वारा उच्चाधिकारियों को सूचित किया गया। इसकी जानकारी होते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। बवाल की आशंका के चलते पुलिस फोर्स अस्पताल और थाने में पहुंच गई है। युवक मछरिया का रहने वाला है और उसकी करीब 20 वर्ष है। मामले में एसपी साउथ और थाने के पुलिसकर्मी भी चुप्पी साधे हैं।
क्षेत्रीय जनता का कहना है कि पुलिस ने युवक को बहुत बुरी तरह से थाने में पीटा है उसके नाखून तक उखाड़ दिए हैं क्षेत्र के कुछ मुस्लिम समुदाय के ठेकेदार बनने वाले रसूखदार मामले को बीमारी से हत्या का मोड़ देने का काम कर रहे हैं साथ ही शव को घर से मस्जिद में ले जाकर नमाज पढ़ाई जा रही है क्षेत्रीय जनता ने यह भी बताया की मुस्लिम धर्म के ठेकेदार बनने वाले कुछ लोग शव का क्रियाकर्म से लेकर सारा काम कर रहे हैं। और अजहर के परिजनों को डरा धमकाकर लिखी पढ़ी बात मीडिया के सामने प्रस्तुत करवा रहे हैं। क्षेत्रीय जनता ने बताया कि युवक को किसी प्रकार की कोई बीमारी नहीं थी युवक बिल्कुल सही सलामत था बावजूद इसके युवक के परिजन युवक को मानसिक रूप से कमजोर बता रहे हैं। परिजनों ने बताया की युवक को मिर्गी के दौरे आते थे जबकि क्षेत्र की जनता कह रही है आज उसके साथ अन्याय हुआ है कल हमारे साथ भी होगा। क्षेत्रीय जनता युवक के साथ इंसाफ की बात पर डटी है शहर काजी भी मौके पर।

Related News

Leave a Reply