Total Visitors : 2 6 5 0 3 7

 11:10 बजे कार्डियक अरेस्ट, सफदरजंग में ली आखिरी सांस ...

 सात साल बाद ....... निर्भया

उन्नाव दुष्कर्मःसफदरजंग अस्पताल में भर्ती नब्बे फीसदी जली उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता ने शुक्रवार रात आखिरी सांसें लीं। सफदरजंग अस्पताल की ओर से पहले ही अंदेशा जताया जा चुका था कि पीड़िता के लिए अगले 48 घंटे बेहद अहम हैं। बता दें कि पीड़िता को गुरुवार देर रात लखनऊ के सिविल अस्पताल से एयरलिफ्ट करके सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पीड़िता ने इलाज के दौरान अपने भाई से कहा आखिरी बार कहा था कि जिन्होंने मेरी ऐसी हालत की है उन्हें छोड़ना मत। साथ ही उसने यह भी कहा था कि अभी वह मरना नहीं चाहती है। अस्पताल में बर्न और प्लास्टिक विभाग के डॉक्टर सुलभ कुमार ने बताया कि पीड़िता को 11:10 बजे कार्डियक अरेस्ट हुआ था। इसके तुरंत बात हमने पीड़िता को इलाज देना शुरू किया, लेकिन हमारे सभी प्रयास विफल रहे और पीड़िता ने 11:40 बजे अंतिम सांस ली।

पूरा मामला

उन्नाव में गुरुवार को दुष्कर्म पीड़िता पर आरोपियों ने पेट्रोल डालकर उसे जलाकर मारने की कोशिश की। इसमें पीड़िता 90 फीसदी जल गई थी। चश्मीदीदों के मुताबिक पीड़िता आग लगने के बाद करीब एक किमी तक मदद की गुहार लगाते हुए दौड़ती रही थी। यहां तक की उसने खुद ही 112 पर फोन कर पुलिस को घटना की जानकारी दी थी, जिसके बाद वहां पुलिस की टीम और एंबुलेंस पहुंची थी। 

 पुलिस ने पांच आरोपियों को किया गिरफ्तार

उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता को जलाने के मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश दिया है।

Related News

Leave a Reply