Total Visitors : 3 4 0 9 0 2

सीएए पर जिद न करे सरकार वापस ले कदम ...

फैसले लोकतंत्र के खिलाफ

पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने कहा कि अगर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का देशभर में विरोध हो रहा है तो सरकार को यह फैसला वापस ले लेना चाहिए। अगर कोई गलत कदम उठाया गया है तो जिद छोड़कर उसे वापस लेने में कोई हर्ज नहीं होना चाहिए।
देशभर में जो विरोध प्रदर्शन हो रहा है, उसमें सरकार को एक्शन लेने के बजाय बातचीत से मामले को सुलझाना चाहिए। चमनगंज में एक डेंटल क्लीनिक के उद्घाटन अवसर पर उन्होंने कहा कि इस तरह के फैसले लोकतंत्र के खिलाफ हैं। आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार में सबसे ज्यादा दलितों के खिलाफ हिंसा हो रही है। भाजपा के बड़े से बड़े नेता काम के बजाय बयानबाजी कर रहे हैं।

तहारत मंच ने श्रीप्रकाश पर साधा निशाना

चमनगंज में श्रीप्रकाश जायसवाल के पहुंचने की सूचना पर मुस्लिम समाज की प्रमुख समाजसेवी संस्था तहारत मंच के लोग उनसे मिलने पहुंचे। हालांकि तब तक वे जा चुके थे। मंच के संयोजक डॉ. मुस्तफा तारिक ने कहा कि श्रीप्रकाश कानपुर के तीन बार सांसद और दो बार केंद्रीय मंत्री रहे।

बाबूपुरवा हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने देश और प्रदेश स्तर के नेता पहुंचे लेकिन वे एक बार भी नहीं गए। सवाल उठाया कि सिर्फ चुनाव के वक्त वोट मांगने के लिए ही उन्हें मुस्लिम समाज की याद आती है। तहारत मंच के पदाधिकारियों ने कहा कि अधिकांश मुस्लिम समाज भाजपा को वोट नहीं देता है लेकिन फिर भी सत्यदेव पचौरी उनकी समस्याएं सुन रहे हैं और हल कराने की कोशिश कर रहे हैं। वह मुस्लिम बहुल क्षेत्रों का निरीक्षण भी कर रहे हैं।

Related News