trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले के बगावती तेवर ...

प्रयागराज
बहराइच से बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने रविवार को प्रयागराज दौरे में बगावती तेवर दिखाते हुए ऐलान किया कि वह 16 दिसंबर से आरक्षण को पूरी तरह से लागू करने और संविधान बचाने के लिए लखनऊ में आंदोलन करेंगी। उन्होंने कहा कि कई बार मांग करने के बावजूद सरकार आरक्षण को पूरी तरह से लागू नहीं कर रही है, जिसके लिए लखनऊ से एक बड़े आंदोलन की शुरुआत की जाएगी।

वहीं, राम मंदिर को लेकर विवादित बयान देते हुए सावित्री बाई फुले ने कहा कि आयोध्या में खुदाई के दौरान भगवान बुद्ध की प्रतिमा मिली थी, इसलिए वहां भगवान बुद्ध की प्रतिमा स्थापित की जानी चाहिए। बकौल सावित्री बाई फुले, 'सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि साक्ष्य के आधार पर मंदिर बनाए जाए, इसलिए साक्ष्यों के आधार पर अयोध्या में भगवान बुद्ध का मंदिर बनाया जाएं, क्योंकि खुदाई के दौरान वहां से भगवान बुद्ध की प्रतिमा मिली थी।साथ ही, उन्होंने अपनी ही सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव आता है तो मंदिर-मस्जिद के साथ ही हिन्दू-मुस्लिम का मुद्दा उठाया जाता है, लेकिन जनता को अब मंदिर नहीं चाहिए, बल्कि लोगों को रोजगार, सम्मान और अधिकार चाहिए। यही नहीं, बीजेपी सांसद ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किए जाने पर भी नाराजगी जताई है. उनका आरोप है कि सरकार मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाकर महज वोट के लिए नाम बदलने की राजनीति कर रही है।

Related News

Leave a Reply