trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

मंत्री आवास के सामने बेनाम लड्डू के नाम से मिठाई की दुकान के ...

राजधानी लखनऊ में बेख़ौफ़ बदमाशों की आपराधिक गतिविधियों का बोलबाला है, मामला गोमतीनगर के विभवखंड का है, जहाँ मंत्री आवास के सामने बेनाम लड्डू के नाम से मिठाई की दुकान के व्यापारी राज कुमार सिंह के बेटे को दो लोगों ने अगवा कर लिया। व्यापारी राजकुमार का बेटा रजत कुमार (24) हाईकोर्ट में एक वकील का ड्राईवर था। आरोप है कि गुरूवार देर शाम दो युवकों जिनका नाम उत्कर्ष सक्सेना और सनी सिंह सेंगर है, रजत के घर आये और किसी बहाने से रजत को लेकर चले गये, जिसके बाद रजत रात भर घर नहीं लौटा। इसके बाद सुबह तक उसके वापस न आने पर परिजन चिंतित हो गये और आरोपी युवकों को फोन कर रजत के बारे में पूछा। जिसपर युवकों ने रजत की गुमशुदगी की जानकारी न होने की बात करके फोन काट दिया।

मृतक के छोटे भाई शुभम को इस बात पर विश्वास नहीं हुआ और मामला कुछ गड़बड़ लगा, जिसके बाद वह आरोपी के घर पहुँच गया, जहाँ उसके रजत को मृतक अवस्था में बाथरूम में बंद पाया। रजत की हालत देख वह दंग रह गया। आनन फानन में उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया, जहाँ इलाज के दौरान युवक ने दम तोड़ दिया। वहीं इस मामले में पिता ने आरोपियों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की है। उन्होंने बताया कि आरोपी युवकों ने बेटे से पैसे वसूलने के चलते बाथरूम में बंद कर उसकी पिटाई की, जिसमें रजत की जान चली गई।

Related News

Leave a Reply