trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

Total Visitors : 116

पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या को लेकर प्रदर्शन. ...

बुलन्दशहर हिंसा में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह व सुमित कुमार की हत्या और लखनऊ में भाजपा कार्यकर्ता प्रत्यूष मणि त्रिपाठी की हत्या की घटना को लेकर कांग्रेस पार्टी ने प्रदर्शन किया राजधानी के जीपीओ पर कांग्रेसजनों ने हाथों में कैंडिल लेकर मृतक आत्मा के प्रति संवेदना व्यक्त किया

इस दौरान यूपी कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता बृजेन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि बुलन्दशहर हिंसा में सुनियोजित तरीके से जांबाज पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और एक प्रतिभाशाली युवक सुमित कुमार की हत्या प्रमाण है कि बीजेपी और उसके अनुषांगिक संगठन जिस अराजक समाज की स्थापना करना चाहते थे, वह अपनी चरम परिणति पर पहुंच गया है। इसका सबूत प्रशासन द्वारा प्राथमिक जांच में ही सामने आया। जब इस जघन्य घटना को अंजाम देने वाले लोग विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, भाजपा युवा मोर्चा जैसे संगठनों से जुड़े हुए निकले। उन्होंने कहा कि बीजेपी और संघ एवं उसके अनुषांगिक संगठन हमारे सहिष्णु उत्तर प्रदेश को अराजकता की प्रयोगशाला बनाना चाहते हैं, जो किसी भी सभ्य समाज के लिए स्वीकार नहीं है। इसी प्रकार लखनऊ में बीजेपी युवा मोर्चा के नेता प्रत्युषमणि त्रिपाठी की हत्या भी प्रशासन की अक्षमता का नतीजा है। बृजेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि इतनी बड़ी घटनाओं के बाद कल से आज तक सीएम एक भी शब्द निन्दा के नहीं बोल सके. वह अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों में व्यस्त रहे। प्रदर्शन में प्रमुख रूप से रामकृष्ण द्विवेदी पूर्व मंत्री, विधायक अराधना मिश्रा ‘मोना’, पूर्व मंत्री राजबहादुर, पूर्व विधायक फजले मसूद, पूर्व विधायक श्यामकिशोर शुक्ला आदि शामिल हुए।

Related News

Leave a Reply