trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

सैकड़ों दलितों ने दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर पर किया प्रदर्शन.. ...

 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा बजरंगबली को दलित करार दिए जाने के बाद जातिगत संगठनों द्वारा शुरू हुआ घमासान थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। अभी बीते दिनों जहां सीएम योगी के इस बयान को सवर्ण चेतना मंच ने धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला करार दिया था। वहीं अब दलित उत्थान सेवा समिति ने राजधानी लखनऊ के हजरतगंज इलाके में स्थित दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर पर कब्जा करने की कवायद शुरू कर दी है।

शनिवार को दलित उत्थान सेवा समिति के बैनर तले सैकड़ों की संख्या में दलितों ने दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर पर शांति पूर्ण प्रदर्शन किया। मंदिर पर कब्जा करने के लिए पहुंचे दलित समुदाय के लोगों का कहना है कि जब सीएम योगी इस बात को स्वीकार चुके हैं कि बजरंगबली दलित थे तो उनके मंदिर पर भी हमारा ही अधिकार होना चाहिए। इस दौरान दलित समुदाय ने हनुमान मंदिर पर हनुमान चालीसा का पाठ किया और इशारों-इशारों में मंदिर पर कब्जा करने का प्रयास किया। इस दौरान उन्होंने मांगी भी रखी कि मंदिर में पुजारी भी दलित समुदाय का ही होना चाहिए। इस दौरान किसी भी तरह की किसी हिंसक घटना देखने को नहीं मिली।

हजरतगंज चौराहे के ठीक बगल में स्थित दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर पर दलित समुदाय द्वारा यह प्रदर्शन बेहद ही शांतिपूर्ण ढंग से की जा रही है। इसी वजह से इस प्रदर्शन के बावजूद पुलिस तमाशबीन बनी नजर आ रही है। क्षेत्र में तैनात पुलिसकर्मी घटना पर नजर जरुर रखे हुए हैं।

Related News

Leave a Reply