trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

Total Visitors : 33

कोतवाली झांसी ...

फर्ज खाकी का और माँ का भी

कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिलता है, झांसी की कोतवाली में जहां तैनात एक महिला सिपाही अपने बच्चे को लेकर कार्यालय आती है और माँ और खाकी दोनों फर्ज को पूरा भी करती है।

दोनों फर्ज निभा रही महिला सिपाही

झांसी की कोतवाली में तैनात महिला सिपाही अर्चना, जो अपनी वर्दी का फर्ज भी पूरी तरह से निभा रही है और मां का भी। पुलिस विभाग एक ऐसा विभाग है, जहां त्यौहार हो या कोई भी खुशी का दिन पुलिस जनता की खुशियों को मनाने के लिए उनकी सुरक्षा में तैनात रहकर अपनी खुशियों का गला घोंटती है।उसी प्रकार महिला सिपाही अर्चना को अपने नन्हे-मुन्ने बच्चे की देखभाल भी करनी है और वर्दी का फर्ज भी अदा करना है। इसलिए वो अपने बच्चे को भी अपने साथ कार्यालय लाती हैं। सिपाही के बच्चे के साथ आने से न तो उनके काम में कोई फर्क पड़ता है और न ही बच्चे को वहां दिक्कत होने देती हैं।अपने दोनों फर्ज के प्रति तत्परता को देखते हुए पुलिस उपमहानिरीक्षक झांसी परिक्षेत्र सुभाष सिंह बघेल ने महिला आरक्षी को 1000 रूपये का नगद इनाम देकर सम्मानित भी किया है।

Related News

Leave a Reply