trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

अज्ञात ने कंट्रोल रूम को फ़ोन पर प्रयागराज जंक्शन को उड़ाने... ...

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में जहाँ प्रशासन एक ओर जनवरी में होने वाले कुम्भ की तैयारियों में लगा हुआ हैं वहीं इसी बीच प्रयागराज जंक्शन को बम से उड़ाने की धमकी मिलने के बाद जिले भर में हडकंप मच गया।   देर रात का है जब किसी अज्ञात ने कंट्रोल रूम को फ़ोन पर प्रयागराज जंक्शन को उड़ा देने की धमकी दे डाली।
इतना ही नहीं घटना को अंजाम देने का समय तक बता दिया गया। अज्ञात ने बताया कि कुछ लोग तड़के चार बजे जंक्शन पर बम धमाका करेंगे। इस खबर के बाद सुरक्षा एजेंसियां हरकत में आ गयीं। पुलिस, जीआरपी और आरपीएफ की संयुक्त टीमों ने तत्काल जंक्शन की चेकिंग शुरू कर दी और सुबह तक चेकिंग अभियान चलाया। सुरक्षा कर्मियों ने चप्पे चप्पे पर छानबीन की। बम डिस्पोजल और डाग स्क्वायड भी जांच में लग गये लेकिन बम या कोई भी संदेहास्पद चीज़ हाथ न लगी। इतना ही नहीं जिस नम्बर से कंट्रोल रूम में बम विस्फोट की सूचना दी गयी थी, उस पर दोबारा फोन किया गया लेकिन नम्बर स्विच ऑफ हो गया। अब तक की जांच के बाद इसे किसी की शरारत माना जा रहा है। फोन करने वाले की तलाश की जा रही है। कंट्रोल रूम में कॉल करने वाले ने बताया कि वह कुछ समय पहले सिविल लाइंस में सुभाष चौराहे पर गया था। वहां पहले से खड़े कुछ लोग जंक्शन पर बम धमाके की योजना बना रहे थे। उसने सुना कि तड़के चार बजे प्लेटफार्म नंबर सात और आठ को उड़ा दिया जाएगा। फोन करने वाले ने अपना नाम पता नहीं बताया था। सूचना के बाद उच्चाधिकारियों के साथ जीआरपी और आरपीएफ और एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव, एसपी जीआरपी हिमांशु कुमार और आरपीएफ के कमांडेंट मौके पर पहुंच गए। तुरंत सघन चेकिंग शुरू कर दी गयी । वहीं चेकिंग के दौरान जंक्शन पर मौजूद यात्रियों में भी हडकंप मचा रहा कि इतनी बड़ी संख्या में फ़ोर्स और आला अधिकारी देर रात स्टेशन पर क्यों हैं। बहरहाल चेकिंग में कुछ भी न मिलने के बाद भी सुरक्षा एजेंसियां हाई अलर्ट पर रहीं। इसके बाद भी आरपीएफ और जीआरपी को हाई एलर्ट पर रखा गया है। इंस्पेक्टर जीआरपी रघुवीर सिंह ने बताया कि रविवार को दिन में भी जंक्शन पर एलर्ट था। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तैयारी की गई है। सीसीटीवी ड्यूटी को विशेष हिदायत दी गई है।

Related News

Leave a Reply