trending now

लखनऊ हिंदी दैनिक‘आज’ के वरिष्ठ संवादाता कल्याण सिंह ने खुद को गोली मारी

कमल नाथ होंगे मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री

अब जेल में ही बीतेगी बाकी उम्र, हत्या के एक और मामले में रामपाल को उम्र कैद की सजा

नहीं रहे गंगा के असली पुत्र जीडी अग्रवाल गंगा को बचाने के लिए 111 दिनों से कर रहे थे अनशन

भीड़ तन्त्र में कोई भी सुरक्षित नहीं हरियाणा DIG की हुई पिटाई

Total Visitors : 5 1 3 7 7

मेट्रो लाइन के किनारे लगे होर्डिंग ट्रेन संचालन के लिए खतरा, ...

मेट्रो की तार में फंसी होर्डिंग, संचालन ठप

मेट्रो की लाइन के किनारे छतों पर लगे होर्डिंग ट्रेन संचालन के लिए खतरा बन रहे हैं।इंदिरानगर से मुंशीपुलिया के बीच ओएचई के ऊपर होर्डिंग का विज्ञापन फटकर गिरने से ट्रैफिक ठप हो गया। इसकी वजह से जहां डाउनलाइन पर ट्रेनों का आवागमन बंद करना पड़ गया। वहीं ट्रेनों के बीच की फ्रीक्वेंसी भी छह मिनट से बढ़ाकर आठ मिनट करनी पड़ी।

मेट्रो अधिकारियों के मुताबिक, पॉलीटेक्निक चौराहा के पास यह हादसा हुआ। यहां ओएचई लाइन के ऊपर बारिश और तेज हवा की वजह से एक विज्ञापन का फ्लेक्स होर्डिंग से आ गिरा। दोपहर करीब 2.20 बजे हुए हादसे से डाउनलाइन की ओएचई में बिजली आपूर्ति बंद हो गई। इसके बाद तार से विज्ञापन हटाने की कार्रवाई शुरू हुई। इससे करीब 3:30 बजे तक मेट्रो की टीम को पूरी लाइन को बंद करना पड़ गया।

अपलाइन से चला पूरा रूट

मेट्रो की प्रवक्ता पुष्पा बेल्लानी ने बताया कि इंदिरानगर और मुंशीपुलिया स्टेशन के बीच यह हादसा हुआ। इसकी वजह से डाउनलाइन पर पूरी तरह ट्रेनों की आवाजाही बंद कर दी गई। इस बीच इंदिरानगर और मुंशीपुलिया के बीच ट्रेनों का आवागमन एक ही तरफ से अपलाइन पर किया गया। इससे ट्रेनों की आवाजाही में अंतर बढ़ गया। एक घंटा ट्रैफिक प्रभावित रहने के बाद शाम के समय इसे सामान्य कर लिया गया।

आपत्ति दर्ज कराएगा मेट्रो

मेट्रोलाइन के सहारे छतों पर लगाए गए होर्डिंगों से दिक्कत के चलते अब नगर निगम के सामने एलएमआरसी आपत्ति दर्ज कराएगा। इन होर्डिंग को लाइन के पास से हटवाने के लिए मांग भी की जाएगी। मेट्रो ऐसे होर्डिंग भी अब चिह्नित करेगा जोकि लाइन के बिल्कुल नजदीक हैं और आंधी-तूफान के समय दिक्कत कर सकते हैं।

Related News

Leave a Reply